अपने सारे गम


कल रात मैंने अपने सारे गम आसमान को सुना दिए! और देखो; आज मै चुप हूँ और आसमान रो रहा है!

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *


*