अच्छाई

1 post

अच्छाई जीते

बुराई से अच्छाई जीते, रावन की तरह दुखो का नाश हो.. नाकामी का हर सिलसिला टूटे, पूरी मन की हर आस हो.. जो चाहो वो मिले जीवन की, हर ख़ुशी आपके पास हो.. दुशेहरा की शुभकामनायें